नयी राजस्थान सरकार से युवाओं ने रखी 17 प्रकार की मांग

Demand from Rajasthan government : राजस्थान के 50 लाख से अधिक युवा हर साल प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठते हैं। युवाओं की कई मांगें पिछली कांग्रेस सरकार ने पूरी की। लेकिन कई अधूरी हैं। राजस्थान के पूर्व सीएम अशोक गहलोत जो काम नहीं कर पाए या धरातल पर नहीं उतरे, वे काम युवा नए सीएम भजनलाल से प्राथमिकता के आधार पर चाहते हैं। 16 ऐसी प्रतियोगी परीक्षाएं हैं। पदों की संख्या बढ़ाना, अटकी भर्ती, संविदा से हटाए कर्मी की मांगों का निस्तारण प्रमुख हैं। ज्यादातर में बजट की जरूरत नहीं हैं, आदेश और मानिटरिंग से लाखों युवाओं का काम हो सकता है।


Demand from Rajasthan government
Demand from Rajasthan government


40 हजार युवाओं ने दिखाई रुचि : 

नए सीएम के आने के बाद भर्तियों को लेकर युवा क्या चाहते हैं। सोशल मीडिया पर पूछे सवाल और सर्वे के प्रति 40 हजार युवाओं ने 24 घंटे में रुचि दिखाई। एक हजार युवाओं ने अपनी लिखित मांगें रखी।


बायतू विधायक ने लिखा पत्र : 

बायतू विधायक हरीश चौधरी ने कर्मचारी चयन बोर्ड को पत्र लिखा है। इसमें वन रक्षक भर्ती परीक्षा 2020 के परिणाम 'जारी होने के बाद उपजे विवाद का जिक्र किया। हरीश ने कहा कि इसमें ओबीसी सामान्य वर्ग के 175 पद होने के कारण संकट हो गया है।


युवाओं द्वारा रखी गई प्रमुख मांगे : 


1. कंप्यूटर अनुदेशक भर्ती में खाली सीटों को भरा जाए, शिथिलता का नियम है। शिक्षा सेवा नियम में न्याय करें।


2. सीएचए के 27 हजार परिवार सेवा से निकाल दिए, उनको फिर से हेल्थ असिस्टेंट या अन्य नव सृजित पद पर लगाएं।


3. नए सब इंस्पेक्टर की भर्ती 2 साल से नहीं निकली, उसे निकाले।


4. प्रत्येक स्कूल के लिए विशेष शिक्षक का पद अनिवार्य किया जाए।


5. एएनएम जीएनएम 2013 को नियुक्ति दी जाए।


6. आरएएस मैंन्स एक्जाम को लेकर शिकायतें हैं, पहले जांच कराई जाए। समय कम देने का कारण बता सैकड़ों पोस्टपोंड करवाना चाहते हैं।


7. 10 साल से अटकी फार्मासिस्ट भर्ती तत्काल निकाली जाए और पीड़ितों को न्याय दें।


8. हर भर्ती के आने से पहले उसके नोटिफिकेशन से लेकर ज्वाइनिंग तक का समय तय हो, भर्ती में ढिलाई पर संबंधित पर कार्रवाई हो।


9. रीट लेवल-2 शिक्षक की अभिशंषा कर नियुक्ति के लिए 5 अक्टूबर को सूची निदेशालय भेजी थी, आज तक नियुक्ति नहीं, तत्काल नियुक्ति दिलवाएं।


10. सूचना सहायक भर्ती परीक्षा समय पर जनवरी में ही कराई जाए।


11. सीएचओ के फरवरी में लीक हुए पेपर को रद्द करवा कर फिर से जल्द भर्ती कराई जाए।


12. प्रारंभिक शिक्षा विभाग में कई साल से कार्यरत विद्यार्थी मित्रों, ग्राम पंचायत सहायकों, पंचायत शिक्षकों, विद्यालय सहायकों का पूर्ण नियमितिकरण किया जाए।


13. सीईटी रद्द हो या 40% क्राइटेरिया फिक्स रखा जाए, ताकि युवाओं के साथ न्याय हो।


14. पशुधन सहायक की नई भर्ती निकाली जाए।


15. संविदा कर्मियों का बड़ा मुद्दा है, लाखों अधरझूल में हैं। उनका फिक्सेशन या स्थाई करने का फैसला तत्काल हो।


16. ठेकाकर्मियों का शोषण रोकने आरएलएसडीसी बोर्ड को लागू किया जाए, विद्युत डिस्कॉम में सबसे ज्यादा शोषण हैं।


17. जेवीवीएनएल में टेक्निकल हैल्पर के 10 हजार पद खाली हैं, नई भर्ती निकाली जाए।


Join Telegram : Click Here


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ